रिहायशी क्षेत्र मे अवैध रूप से चल रहा कमर्शियल सिलैंडर का काम, कभी भी बन सकता है बड़े हादसे का सबब।


मुस्तकिल मलिक द्वारा रिहायशी क्षेत्र के आवासीय भवन मे अवैध रूप से किया जा रहा कमर्शियल सिलैंडरों का काम, धृतराष्ट्र की भूमिका मे बैठे अधिकारियों को किसी बड़े हादसे के होने का है इंतजार

डाटला एक्सप्रेस संवाददाता 

गाज़ियाबाद:-बीते मई के महीने मे नगर कोतवाली क्षेत्र के कैला भट्ठा स्थित छोटा कैला में एक अवैध गैस सिलेंडर के गोदाम में रिफिलिंग करते समय अचानक आग लग गई। आग छोटा हाथी में लाए गए सिलेंडरों में लगी और गोदाम तक पहुंच गई। इस घटना में एक के बाद एक 25 गैस सिलेंडर धमाके के साथ फट गए। घटना के बाद क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। चूंकि कैला भट्टा एक घना रिहायशी क्षेत्र है जहां की गलियां भी काफ़ी तंग होने के चलते दमकल की गाड़ियों को वहाँ पहुंचने और आग पर काबू पाने मे कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

किंतु दुर्भाग्यवश इस हादसे से भी अधिकारियों ने कोई सबक नहीं लिया जिसका प्रमाण यह है कि आज पूरे जनपद मे हर तरफ ऐसे ही अनगिनत अवैध गैस सिलैंडरों के गोदाम अधिकारियों की नाक के नीचे संचालित है और किसी बड़े हादसे के होने का इंतजार कर रहे हैं।

इन्हीं अवैध गोदामों की सूची मे जनपद गाज़ियाबाद के शालीमार गार्डन थाना अंतर्गत आने वाली राजीव कॉलोनी स्थित भूस की टाल के पीछे वाली गली मे मुस्तकिल मलिक नामक व्यक्ति द्वारा रिहायशी क्षेत्र के एक आवासीय मकान संख्या बी-222 मे लंबे समय से खाद्य आपूर्ति, अग्निश्‍मन आदि विभागों की नाक के नीचे कमर्शियल सिलेंडरों का काम बहुत बड़े पैमाने पर धड़ल्ले से किया जा रहा है। चूंकि उक्त गोदाम रिहायशी क्षेत्र मे मौजूद है जिसके चलते यदि कभी भी कोई हादसा होता है तो बहुत बड़े पैमाने पर जान और माल का नुकसान होने की संभावना है।

सूचना अनुसार मुस्तकिल मालिक के पास अपनी कोई एजेंसी नहीं है, इनके द्वारा अलपाईन गैस एजेंसी दादरी नोएडा उत्तर प्रदेश (मालिक का नाम वंशज अग्रवाल) से इन सिलेंडरों को मंगवा कर क्षेत्र मे सप्लाई करने का काम किया जाता है। अलपाईन गैस एजेंसी द्वारा लंबे समय से मुस्तकिल मलिक को सिलेंडरों की सप्लाई दी जाती रही है किंतु उनके द्वारा भी अपने रिकार्डस मे इस अवैध गोदाम का कहीं जिक्र नहीं किया गया है। 

राजीव कॉलोनी के जिस मकान मे यह अवैध गोदाम संचालित है वह तकरीबन तीन माले का है जिसमें नीचे लकड़ियों की टाल है और ऊपर बनी बाकी की मंजिलों में मुस्तकिल मलिक द्वारा कमर्शियल सिलेंडरों को स्टोर करके रखा जाता है। सूचना तो यह भी है कि मुस्तकिल मलिक द्वारा कमर्शियल सिलेंडरों को अवैध रूप से घरेलु सिलेंडरों मे पलटि करने का भी काम बहुत बड़े पैमाने किया जाता है जो कि एक आपराधिक कृत्य है। 

जनहित को देखते हुए हमारे द्वारा इस अवैध गोदाम इसके संचालक मुस्तकिल मलिक व अलपाईन गैस एजेंसी से संबंधित शिकायतें जनपद, मंडल व शाशन स्तर पर भेज इस अवैध गोदाम को सील बंद करते हुए मुस्तकिल मलिक के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही करने और गैर जिम्मेदाराना ढंग से एक गैर जिम्मेदार व्यक्ति को सब कुछ जानते हुए भी लंबे समय से सिलेंडरों की सप्लाई करने वाली अलपाईन गैस एजेंसी के मालिक वंशज अग्रवाल की एजेंसी का लाइसेंस रद्द करने की मांग की जाएगी।


Comments
Popular posts
मशहूर कवि डॉ विजय पंडित जी द्वारा रचित रचना "सुरक्षित होली प्रदूषणमुक्त होली"
Image
भक्त कवि श्रद्धेय रमेश उपाध्याय बाँसुरी की स्मृति में शानदार कवि सम्मेलन का किया गया आयोजन।
Image
भारतीय किसान यूनियन "अंबावता" द्वारा ओला वृष्टि से हुए किसानों के नुकसान पर मुआवजा देने के लिए राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन।
Image
अलवर राजस्थान की सुप्रसिद्ध एवं वरिष्ठ कवि ममता शर्मा 'अंचल' द्वारा रचित रचना "बंजारे दिल का"
Image
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की छत्रछाया में अवैध फैक्ट्रियों के गढ़ गगन विहार कॉलोनी में हरेराम नामक व्यक्ति द्वारा पीतल ढलाई की अवैध फैक्ट्री का संचालन धड़ल्ले से।
Image