शालीमार गार्डन चौकी क्षेत्र 80 फुटा रोड राजस्थान मार्बल हाउस के बराबर मे ज्योति नामक महिला बेच रही है जहरीली शराब



डाटला एक्सप्रेस संवाददाता (पंकज तोमर) 

गाजियाबाद:- साहिबाबाद थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाली चौकी शालीमार गार्डन क्षेत्र 80 फुटा रोड राजस्थान मार्बल हाउस के बराबर में पुलिस की मिलीभगत से खुलेआम बेची जा रही है जहरीली शराब जहां उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ वर्षों में जहरीली शराब पीने से सैकड़ों लोगों की जान चली गई और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शोक जताते हुए ऐसे शराब माफियाओं की जमीन तक कुर्की करने के आदेश दे दिए वहीं दूसरी तरफ अभी भी शराब माफिया अपने मंसूबों में कामयाब होते नजर आ रहे हैं और जहरीली शराब बेच रहे हैं

ऐसा ही एक ताजा मामला प्रकाश में आया है आपको बताते चलें कि थाना साहिबाबाद क्षेत्र अंतर्गत आने वाली शालीमार गार्डन चौकी क्षेत्र 80 फुटा रोड राजस्थान मार्बल हाउस के बराबर में ज्योति नामक महिला मेन रोड पर खुलेआम जहरीली शराब बेच रही है और इस महिला को शालीमार गार्डन पुलिस चौकी पर तैनात पुलिस कर्मियों का पूर्ण सहयोग प्राप्त है क्योंकि समय से पुलिस को उनका मेहनताना ज्योति नामक महिला के द्वारा पहुंचा दिया जाता है इसी कारण पुलिस अपना सहयोग बरकरार रूप से बनाए हुए हैं 

जहां आने वाली 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश में पहले चरण का चुनाव है और चुनावी माहौल खराब ना हो इस वजह से आबकारी विभाग की टीम शराब माफियाओं की धरपकड़ में लगी हुई है और शराब माफियाओं को जेल भेज रही है और जगह-जगह छापेमारी कर रही है वहीं दूसरी तरफ आबकारी विभाग की आंखों में धूल झोंक कर शालीमार गार्डन चौकी की पुलिस शराब माफियाओं पर मेहरबान दिखाई दे रही है और ऐसे शराब माफियाओं की वजह से चुनावी दौर मे शराब जगह - जगह पहुंचाना लाजमी है और इन्हीं की वजह से चुनावी का माहौल भी बिगड़ सकता है

आपको एक बात से और अवगत कराते चलें कि दो ढाई साल पहले चौकी शालीमार गार्डन पर तैनात चौकी इंचार्ज दिनेश पाल का सर इन्हीं शराब माफियाओं ने फोड दिया था क्योंकि चौकी इंचार्ज अपने क्षेत्र में शराब नहीं बेचने दिया करते थे इसी कारण गुस्साए शराब माफियाओं ने उन पर हमला कर दिया और अभी दो महीने पहले भी गुप्त सूचना पर दबिश देने आई पुलिस पर ऐसे ही माफियाओं ने हमला कर दिया और हमले के दौरान एक सिपाही को अपनी आंख का बलिदान देना पड़ा अब देखने वाली बात यह होगी की ऐसे शराब माफियाओं के खिलाफ उच्च अधिकारी किया कार्यवाही करते हैं ।

Comments