कोयल एन्क्लेव बिजली घर पर तैनात अधिकारियों-कर्मचारियों द्वारा पार्षद विनोद कसाना से की गई बद्सलूकी


डाटला एक्सप्रेस संवाददाता 

जनपद गाजियाबाद के साहिबाबाद स्थित राजेंद्र नगर बिजली घर क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कोयल एनक्लेव बिजली घर पर पार्षद विनोद कसाना और लाइनमैनो के बीच दिनांक 04/06/2021 को विवाद हो गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार भोपुरा तिराहे पर काले के होटल के सामने लगे खंबे से बार-बार जंपर काटने और भोपुरा पेट्रोल पंप के पास बीती 19 तारीख को एक खंभा मुड़ने की कंप्लेंट बिजली घर मे की गई थी।शिकायत करने के काफी दिन बीत जाने के बावजूद भी उस खंभे को कोयल एनक्लेव बिजली घर पर बैठे जेई निरंजन मौर्या द्वारा आज दिन तक ठीक नहीं करवाया। दिनांक 04/06/2021 को जब बिजली घर के कर्मचारियों ने काले के होटल के पास से बार-बार कॉलोनियों में जा रही बिजली को काटा तो इसकी सूचना वहां के लोगों ने क्षेत्रीय पार्षद विनोद कसाना को दी और बताया की लाइनमैन लाईट को घंटो-घंटो काटकर छोड़ देते हैं जिससे क्षेत्रवासियों को भारी भारी परेशानी उठानी पड़ती है। 

सूचना पाते ही क्षेत्रीय बीजेपी पार्षद विनोद कसाना मौके पर पहुंच गये। जब इस विषय पर पार्षद द्वारा लाइनमैनों से पूछा गया तो वह बिना कुछ कहे लाईट काट कर वहां से चले गये। जिसके बाद भोपुरा, मास्टर कॉलोनी,शालीमार सिटी एवं सिकंदरपुर की लाईट चली गई। पार्षद द्वारा क्षेत्रवासियों की समस्या को ध्यान में रखते हुए जब लाइनमैनों को समझाया गया तो उन्होंने पार्षद विनोद कसाना की एक ना सुनी। जिसके बाद कई क्षेत्रवासी एवं विनोद कसाना कोयल एनक्लेव बिजली घर पर पहुंच गये, बातचीत के दौरान लाइनमैनो और पार्षद के बीच कहासुनी हो गई, इसी बीच लाइनमैनो ने क्षेत्रवासियों व पार्षद विनोद कसाना से बद्तमीजी से बात करना शुरू कर दिया और उन्हें बिजली घर से तुरंत जाने को कह डाला।

ज़रा सोचें जब यह लोग जनता द्वारा चुने हुए एक सम्मानित व्यक्ति के साथ ऐसा व्यवहार कर सकते हैं तो आम जनता के साथ यह लोग क्या करते होंगे, यह पूरा वाक्या साबित करता है कि कोयल एनक्लेव बिजली घर पर तैनात अधिकारियों-कर्माचारियों के हौसले किस हद तक बुलंद हैं कि वह एक जनप्रतिनिधि एवं राज्य की सत्ता धारी पार्टी से पार्षद को भी कुछ नहीं समझ रहे। 

वहीं विनोद कसाना ने बताया कि मेरे द्वारा कई बार घटना की जानकारी देने के लिए "अधिशासी अभियंता" राजीव आर्य और "एसडीओ" किशन कुमार को फोन किया गया किन्तु उन्होंने फोन नहीं उठाया, इस पूरे घटनाक्रम में "अवर अभियंता" निरंजन मौर्या ने अपना संरक्षण अपने लाइनमैनों को दिया हुआ था ऐसा इसलिये कि घटना के दौरान वह भी मौके पर मौजूद थें। निरंजन मौर्या अपने लाइनमैनों की गलती मानने की जगह उन को संरक्षण देने का काम हमेशा से करते आए हैं। चाहे उन्होंने कुछ भी गलत क्यूँ ना किया हो। मैं इसकी शिकायत विभाग के उच्च अधिकारियों से कर रहा हूं, जिससे कोयल एन्क्लेव बिजली घर पर तैनात अधिकारियों-कर्माचारियों द्वारा किये जा रहे क्षेत्रीय जनता के शोषण को रोका जा सके।

Comments
Popular posts
ठेकेदार प्रतीक का भ्रष्टाचारी खेल, पुरानी ईंटों का पुनः ईस्तेमाल कर बना डाली गली।
Image
विराटनगर नेपाल में आयोजित नेपाल-भारत साहित्य महोत्सव मे अलवर निवासी ममता शर्मा 'अंचल' को किया गया सम्मानित।
Image
आरटीआई आवेदक को लट्टू की तरह नचा रहे जीडीए प्रवर्तन जोन दो के अधिकारी, आठ माह पूर्व प्रेषित की गई आरटीआई से संबंधित प्रपत्रों को आवेदक के कई प्रयासों के बावजूद देने के लिये नही हैं तैयार।
Image
अवैध निर्माणों को संरक्षण देना हो या आरटीआई नियमों की धज्जियां उड़ाना, जीडीए प्रवर्तन जोन 02 के अधिकारी दोनों चीजों मे हैं माहिर।
Image
श्री संकटमोचन बालाजी मंदिर समिति द्वारा किया गया अठ्ठारवा विशाल माँ भगवती जागरण का आयोजन
Image