भोजपुरी फ़िल्म "तेज़ा का तेवर" की शूटिंग गोरखपुर में

डाटला एक्सप्रेस संवाददाता/9810862251

गोरखपुर:-आजकल भोजपुरी फिल्मों की शूटिंग लगातार जिले और आसपास चल रही है। 

इसी कड़ी में डायरेक्टर शशिकान्त पांडेय की फ़िल्म तेज़ा का तेवर की शूटिंग गोरखपुर के सहारा स्टेट क्लब, नौकाविहार और उसके आस पास की जा रही है। 

मुख्यमंत्री के शहर मे इतने अच्छे लोकेशन्स हैं जिससे शहर की खूबसूरती देखते ही बनती है। वहीं राज्य में फ़िल्म सिटी बनाने की कवायद जोरों पर है। तेज़ा का तेवर की शूटिंग खूबसूरत लोकेशनों पर की जा रही है। मुजीब प्रोडक्शन प्रस्तुत रुही फिल्म्स के बैनर तले बनने वाली भोजपुरी फ़िल्म तेज़ा का तेवर के निर्देशक शशिकान्त पांडेय की ये दूसरी फिल्म है। पहली फ़िल्म प्रीत के रंग है जिसे इन्होंने UP में ही कंपलीट किया, जो जल्द ही रिलीज होगी। फ़िल्म के कलाकारों में निशा सिंह, मनमोहन मिश्रा, संजू सोलंकी, सुशील सिंह, श्रेया मिश्रा, बबलू चक्रवर्ती, आर के गोश्वामी हैं। शहर के वरिष्ठ कलाकार और रंगकर्मी राज कुमार सिंह ने फ़िल्म में एक महत्वपूर्ण किरदार निभाया है। संपादक का, एक्शन बेस्ड इस फ़िल्म की नायिका निशा सिंह पत्रकार हैं। जो देश के असामाजिक तत्वों के काले कारनामों को न्यूज़ चैनल के माध्यम से उजागर करती हैं। न्यूज़ चैनल हेड की दमदार भूमिका राज कुमार सिंह ने निभाई है। 



जिन्होंने बहुत अच्छी और बड़े बैनर की फिल्मों में भी काम किया है। इनकी 2 फिल्में इश्क का रोग और तुमसे अच्छा कौन है रिलीज को तैयार है,वह एक में नायिका के पिता और दूसरे में विलेन देव सिंह के पिता की भूमिका में हैं। अभिनेता होने के साथ साथ वो कवि, लेखक,रंगकर्मी हैं। अभिनय और साहित्य सेवा से समाज को बेहतर बनाने में अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं। 

    फ़िल्म तेज़ा का तेवर एक संदेश देने वाली फिल्म है । फ़िल्म के प्रोड्यूसर मुजीब खान और निर्देशक शशिकान्त पांडेय हैं । DOP डी के शर्मा हैं

शूटिंग के दौरान ली गई कुछ छाया चित्र








Comments
Popular posts
मशहूर कवि डॉ विजय पंडित जी द्वारा रचित रचना "सुरक्षित होली प्रदूषणमुक्त होली"
Image
भक्त कवि श्रद्धेय रमेश उपाध्याय बाँसुरी की स्मृति में शानदार कवि सम्मेलन का किया गया आयोजन।
Image
भारतीय किसान यूनियन "अंबावता" द्वारा ओला वृष्टि से हुए किसानों के नुकसान पर मुआवजा देने के लिए राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन।
Image
अलवर राजस्थान की सुप्रसिद्ध एवं वरिष्ठ कवि ममता शर्मा 'अंचल' द्वारा रचित रचना "बंजारे दिल का"
Image
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की छत्रछाया में अवैध फैक्ट्रियों के गढ़ गगन विहार कॉलोनी में हरेराम नामक व्यक्ति द्वारा पीतल ढलाई की अवैध फैक्ट्री का संचालन धड़ल्ले से।
Image