लखनऊ से आदेश आने के बाद गाजियाबाद पुलिस ने डांसिंग कार की सीज

 


I





डाटला एक्सप्रेस संवाददाता पंकज तोमर 


गाज़ियाबाद:-लखनऊ से आदेश आने के बाद गाजियाबाद पुलिस अलर्ट मोड पर दिखाई दे रही है और हुड़दंग करने व गाड़ियों पर अलग-अलग जाति लिखवाने पर सख्ती से कार्यवाही की जा रही है। 

आपको बताते चलें गाजियाबाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने जिले में वाहनों पर आपत्तिजनक चिन्ह, लेख, इशारे वाले स्टिकर या फिर गैर कानूनी रूप से वाहन को मॉडिफाइड कराकर अराजकता फैलाने वाले चालकों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। वहीं एसएसपी के आदेशों का पालन करते हुए आज एक मॉडिफाइड 'डांसिंग कार' को सीज किया गया, साथ ही कई वाहनों का चालान भी किया गया आपको बता दें कि SSP गाज़ियाबाद के निर्देश के बाद मॉडिफाइड वाहनों द्वारा सड़कों पर अराजकता फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी वही थाना टीला मोड़ पुलिस ने एक 'स्कॉर्पियो' को अवैध तरीके से मॉडिफाइड कराकर सड़क पर अराजकता फैलाने के कारण सीज कर दिया।इस वाहन के पीछे डिग्गी में बड़े-बड़े स्पीकर लगे हुए थे जिसके कारण आसपास से गुजरने वाले वाहनों को काफी परेशानी होती थी क्योंकि इनका साउंड काफी तेज होता है और इस गाड़ी का साउंड बजाते समय यह लोग गाड़ी को जंप कराते थे साथ ही गाड़ी के शीशे नीले रंग के थे और पूरी गाड़ी पर चारों तरफ स्टीकर लगे हुए थे। इसके अलावा कई और वाहनों का भी चालान किया गया. नियमों का उल्लंघन करने पर चालान के जरिए 41 हजार 500 रुपए गाड़ी मालिकों से वसूले गए। एसएसपी द्वारा सभी क्षेत्राधिकारीयों और थाना प्रभारियों को लगातार इसी तरह अभियान चलाकर ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही सख्त संदेश भी दिया गया है कि नव वर्ष पर कोई भी हुड़दंग ना मचाये। आपको बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के अपर परिवहन आयुक्त ने हाल ही में आदेश जारी किया है कि अगर कोई अपनी गाड़ी पर जाती सूचक यानी कि ब्राह्मण, जाट, गुर्जर आदि नाम लिखवाता है तो उसका वाहन जब्त कर लिया जाएगा।अब से जिन वाहनों पर ऐसे शब्द पाए गए उनके खिलाफ अभियान चलाते हुए उनकी बाइक और कार को सीज किया जाएगा।