सूचना

 


मैं यशवीर पुत्र नानक चंद निवासी मकान संख्या 248,ग्राम शकलपुरा, लोनी, जनपद गाज़ियाबाद, उत्तर प्रदेश (8595706490) द्वारा दिनांक 24/10/20 को थाना लोनी जनपद गाज़ियाबाद में मेरी पुत्री सोनिया उम्र लगभग 15 वर्ष के साथ मेरे सगे चाचा स्वर्गीय श्री हरि सिंह के पुत्र सतवीर निवासी शकलपुरा, लोनी, गाज़ियाबाद, उत्तर प्रदेश (8595706490) द्वारा की गई छेड़खानी के विरुद्ध मुकदमा लिखवाया गया था। जिसमें थाना-लोनी जनपद-गाज़ियाबाद पुलिस द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए मुल्जिम सतवीर को एफआईआर संख्या 0897 में धारा 354,506,7 व 8 के अंतर्गत तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।


 


वर्तमान स्थितिनुसार मुल्जिम सतवीर पक्ष के लोग जिनके नाम इस प्रकार से हैं राजेश देवी (माता) , सतप्रकाश (भाई) , राजकुमार (भाई) जो कि रेलवे सुरक्षा बल (RPF) में अपनी सेवा देते हैं, विक्रम (भाई) , मोनिका (बहन) जो कि रेलवे सुरक्षा बल में तैनात हैं तथा मेरी पत्नी अनीता द्वारा मुझे और मेरे बड़े भाई नंद किशोर निवासी बी-ब्लॉक, गली नंबर 12,सरस्वती विहार, खोड़ा कॉलोनी उत्तर प्रदेश (9213756063) के ऊपर निरंतर मुल्जिम सतवीर के विरुद्ध लिखवाए गए मुक़दमे को वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है।


 


हमारे द्वारा मुकदमा वापस ना लेने की सूरत में मुल्जिम पक्ष के लोग मुझे, मेरे भाई नंद किशोर उनके बहनोई राजेश पुत्र अतर सिंह निवासी घौंडा दिल्ली, उनके साले नीरज पुत्र राम नाथ निवासी पसौंडा, साहिबाबाद, गाज़ियाबाद, उत्तर प्रदेश व मेरे परिवार के सदस्यों तथा अन्य रिश्तेदारों को किसी भी अन्य इसी प्रकार के मुक़दमे में फसाने अथवा ग्राम शकलपुरा में दिखते ही जान से मारने की धमकी दे रहे हैं जिसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग मेरे पास संरक्षित है जिसमें आप सुन सकते हैं कि किस प्रकार मुल्जिम पक्ष के लोग मुक़दमा वापस लेने के लिए मेरे व मेरे परिवार के सदस्यों पर दबाव बना रहे हैं।


 


मेरी पत्नी अनीता पूरी तरह मुल्जिम पक्ष के साथ है जिसमें उसका सहयोग मेरी दूसरी पुत्री अंजलि भी दे रही है। मेरी पत्नी द्वारा पूर्व में भी फौ0वा0सं0-4705/07 राज्य बनाम मानक उर्फ नानक आदि। मु0अ0सं0-528/2007,धारा-498ए,323,504, भा0दं0सं0 व धारा - 3/4 दहेज प्रतिषेध अधिनियम थाना-बड़ौत, जिला - बागपत के माध्यम से मुझे व मेरे परिवार को फसाने की कोशिश की जा चुकी है जिसमें जांचोप्रांत माननीय न्यायालय द्वारा मामले को झूठा पाते हुए मुझे व मुक़दमे में नामित सभी लोगों दिनांक 18/04/2012 को दिए गए अपने फैसले में  बाईज्ज़त बरी कर दिया गया था।


 


दूसरी ओर मुल्जिम सतवीर जो कि एक आपराधिक प्रवृति का शख्स है जिसके ऊपर पूर्व में भी कई अन्य मामलों में मुक़दमे दर्ज हैं और उसके सभी सहयोगि जो कि दबंग और सरकश किस्म के लोग है जिनका नाम मैंने ऊपर अंकित किया है से मुझे व मेरे बड़े भाई के परिवार की जान का खतरा है और यह भी सम्भव है कि भविष्य में यह सभी मेरी पत्नी अनीता और मेरी पुत्री अंजलि के साथ मिलकर मुझे, मेरे बड़े भाई अथवा मेरे परिवार के किसी अन्य सदस्य को शारीरिक हानि पहुंचा दें या किसी झूठे मुक़दमे में फसा दें जिसकी धमकी उनके द्वारा मुझे मेरे फोन पर दी जा चुकी है जिसकी ऑडियो मेरे पास संरक्षित है।


 


अतः मैं आप सभी को सूचित करना चाहता हू की यदि मुझे, मेरी पुत्री सोनिया, मेरे बड़े भाई नंद किशोर अथवा उनके परिवार के सदस्यों को कुछ भी होता है या हमे किसी झूठे मुक़दमे में फंसाया जाता है तो उसके जिम्मेदार केवल और केवल मुल्जिम व उसके पक्ष के लोग होंगे जिनका नाम मैंने सूचना में ऊपर अंकित किया है। 


 


धन्‍यवाद 


 


यशवीर पुत्र स्वर्गीय श्री नानक चंद


निवासी:मकान संख्या 248,ग्राम शकलपुरा, लोनी, गाज़ियाबाद, उत्तर प्रदेश


दूरभाष:-8595706490,9213756063


Comments