भ्रष्ट लाइनमैन राजीव का एक और कारनामा आया सामने 


(बिजली बिल जमा होने के बावजूद काटा उपभोक्ता का विद्युत कनेक्शन) 


(कनेक्शन जोड़ने की एवज में उपभोक्ता से ऐंठे 500 रुपए) 


 


गाजियाबाद विद्युत विभाग के साहिबाबाद डिवीजन 4 राजेंद्र नगर बिजली घर अंतर्गत आने वाले कोयल एनक्लेव बिजली घर पर तैनात लाइनमैन राजीव का एक भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है जिसमें उपभोक्ता से लाइनमैन राजीव ने कनेक्शन जोड़ने के नाम पर पांच सौ रुपए की रिश्वत ली है। 



आपको बता दें की गगन विहार गली नंबर 9 लड्डू चौक पर मलखान नाम से 2 किलो वाट का एक कमर्शियल कनेक्शन जिसका अकाउंट नंबर 3216532725 है जिसपर 11635 रुपए का विद्युत बिल बकाया था जिसको मलखान द्वारा दिनांक 19-11-2020 को ही जमा करा दिया गया था जिसकी रसीद भी मौजूद है और आप उसे प्रकाशित तस्वीर में भी देख सकते हैं कि दिनांक 19/11/2020 को ही उपभोक्ता द्वारा बकाया बिल का भुगतान किया जा चुका था। 


 


परंतु दिनांक 24-11-2020 को लाइनमैन त्रिलोकचंद, लाइनमैन राजीव व एक अन्य लाइनमैन उपभोक्ता मलखान के यहां पर पहुंचे और मीटर पर एक लाल रंग की स्लिप लगा कर कनेक्शन काट दिया ।जब इसकी जानकारी पास के लोगों ने मलखान को दी तो उन्होंने जमा किए हुए बिल की रसीद को लेकर बिजली घर कोयल एनक्लेव पहुंचे जहां उन्हें लाइनमैन राजीव मिला उपभोक्ता ने राजीव से कहा कि मैं तो अपना बिल 19 तारीख में ही जमा करा चुका हूं फिर आपने मेरा कनेक्शन क्यों काट दिया। ऐसा कहते हुए उन्होंने अपना कनेक्शन दोबारा जोड़ने की बात लाइनमैन राजीव से कही जिसके बाद लाइनमैन राजीव ने कनेक्शन जोड़ने की एवज में उपभोक्ता से पांच सौ रुपए लिए और कनेक्शन को दोबारा जोड़ा। 


 


आपको बताते चलें यह वह लाइनमैन है जो पहले भी ऐसे ही कई मामलों के कारण बिजली घर से सस्पेंड किया जा चुका था परंतु अवर अभियंता निरंजन मौर्या अपना सबसे चहेता लाइन मैन होने और उगाही सिंडिकेट की चैन को बनाए रखने के लिए इसे दोबारा बिजली घर पर रख लिया जिससे लाइन मैन राजीव का मनोबल बढ़ गया जिसके परिणामस्वरूप आज भी यह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है और आम जनता को अपने कारनामों से रोज तंग कर रहा है जिसकी भनक डिविजन के उच्चधिकारियों को भी है। 


 


वैसे इस पूरे प्रकरण की जानकारी एक्शन राजीव आर्य को दे दी गई है जिसमें उनके द्वारा लाइनमैन के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करने की बात कहीं। वैसे इस मामले से संबंधित सभी साक्ष्य हमारे पास मौजूद है ।


Comments