लाइनमैन राजीव तुलसी निकेतन के जीडीए फ्लैटों में चलवा रहा है चोरी की लाइट


गाजियाबाद:-साहिबाबाद क्षेत्र में लाइनमैनों की वजह से बिजली चोरी होने के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं बावजूद इसके उच्च अधिकारी चुप्पी साधे बैठे हुए हैं। अधिकारियों से कई बार शिकायत करने के बावजूद अपने भ्रष्टाचारी या यूं कहें अपने चहिते लाइनमैनों के खिलाफ वह कोई भी कार्यवाही करने के लिए तैयार नहीं है जिससे समझ पाना सरल है कि चोरी कराई जाने वाली लाइट से आने वाले मुनाफे में इनका भी कुछ महत्वपूर्ण हिस्सा होता है इसी वजह से वह अपने चहिते लाइनमैनों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करते हैं और हाथ बांधे और आंख मूँदे सारा कारनामा चलने रहने देते हैं। 


 


उक्त से संबंधित गुप्त सूत्रों से मिली जनकारी के अनुसार ऐसा ही एक और विद्युत चोरी का मामला सामने आया है जिसमें पूर्व में भ्रष्टाचार में लिप्त होने के कारण कोयल एनक्लेव बिजली घर से हटाए जा चुके लाइनमैन राजीव को दोबारा बिजली घर कोयल एन्क्लेव अवर अभियंता निरंजन मौर्या द्वारा रख कर किस प्रकार राजीव द्वारा तुलसी निकेतन फ्लैटों में कई जगह चोरी की लाइट जलवाई जा रही है।



नाम ना बताने की शर्त पर कुछ लोगों ने बताया कि तुलसी निकेतन में बने फ्लैट नंबर 708 व 709 में आज भी चोरी की लाइट जलाई जा रही है जिसके बदले वहां से हर महीने लाइनमैन राजीव मोटे पैसे ले रहा है। इस प्रकार के अनगिनत मामलों में लाइनमैन राजीव द्वारा किए जा रहे भ्रष्टाचारों की ख़बरें हमारे अखबार में कई बार प्रकाशित हो चुकी हैं जिसे हमारे द्वारा हमेशा उच्च अधिकारियों के संज्ञान में भी लाया गया है बावजूद इसके राजीव के विरुद्ध आज तक कोई भी उचित विभागीय कार्यवाही नहीं की गई है। जीडीए के इन फ्लैटों की भी सूचना कई बार उच्च अधिकारियों को दी गई परंतु आज तक इन जगहों पर कोई ट्रैप नहीं लगाया गया है और ना ही इस मामले में कोई जांच कराई गई की इन जगहों पर चोरी की लाइट किसके संरक्षण में जलवाई जा रही है।


 


विद्युत विभाग साहिबाबाद डिवीजन चार के भ्रष्टाचारों से संबंधित कई ख़बरें रोज प्रकाश में आती हैं फिर भी जिले स्तर का कोई बड़ा अधिकारी इनके ऊपर किसी भी प्रकार की कोई उचित विभागीय कार्यवाही नहीं करता, सब अपना-अपना पल्ला झाड़ कर केवल कार्यवाही करने की बातें भर करते हैं।वैसे उक्त मामले की शिकायत बड़े शासनिक अधिकारियों से की जा रही है।