मृतक के शव को कंधा देने के लिए शालीमार गार्डन चौकी प्रभारी शशि चौधरी ने बढ़ाया हाथ


डाटला एक्सप्रेस संवाददाता 


गाज़ियाबाद:-एक तरफ जहां कोरोना से देश कराह रहा है वही कोरोना की वजह से जगह-जगह लॉक डाउन है वही इस लॉक डाउन की वजह से मरने वाले को चार कंधे भी नसीब नही हो पा रहे है। ऐसे में खाकी ने मृतक परिवार का साथ दिया है। ये घटना ग़ाज़ियाबाद के शालीमार गार्डन क्षेत्र की है


आप ने हमेशा खाकी वर्दी पर सवाल उठाए आज उसी खाकी का एक चेहरा देखने को मिला  जो हर व्यक्ति को झकझोर कर रख देगा आपको बता दें की ग़ाज़ियाबाद जिले के थाना साहिबाबाद क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली शालीमार गार्डन चौकी इंचार्ज शशि चौधरी व कॉन्स्टेबल सौरभ सोलंकी ने एक बेटी की पीड़ा सुन कर मदद को अपने हाथ आगे बढ़ाए। प्राप्त सूचना के अनुसार 93 साल के रामेश्वर की लंबी बीमारी के चलते आज दोपहर उनका देहांत हो गया एक तो घर मे खाने के लाले और ऊपर से पिता की मौत के बाद बेटी सोनी ओर उसका 12 साल का बेटा लोगो से दाह संस्कार के लिए मदद मांगने  को घर से बाहर निकले परंतु लोक डाउन की वजह से मदद करने को कोई आगे नहीं आया तो मृतक की बेटी शालीमार चौकी प्रभारी से मदद मांगने पहुंची और आंसुओं को रोक नहीं पाई व अपनी पूरी कहानी पुलिस से बयान की फिर क्या था पुलिस ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया ओर शव ले जाने के लिए गाड़ी और दाह संस्कार के सारे ख़र्च का जिम्मा लिया और मृतक  की बेटी सोनी से कहा की अंतिम संस्कार के बाद घरेलू सामान ओर राशन भी हम लोग आपको दे देंगे चिंता करने की कोई बात नहीं है पुलिस प्रशासन आपके साथ है वही मदद मिलने के बाद सोनी की आंखे आसुओ से भरी हुई है मगर इस दुख की घड़ी में खाकी से मदद मिलने के बाद वो खाकी को दिल से दुआए भी दे रहीं हैं


Comments
Popular posts
मशहूर कवि डॉ विजय पंडित जी द्वारा रचित रचना "सुरक्षित होली प्रदूषणमुक्त होली"
Image
भक्त कवि श्रद्धेय रमेश उपाध्याय बाँसुरी की स्मृति में शानदार कवि सम्मेलन का किया गया आयोजन।
Image
भारतीय किसान यूनियन "अंबावता" द्वारा ओला वृष्टि से हुए किसानों के नुकसान पर मुआवजा देने के लिए राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन।
Image
अलवर राजस्थान की सुप्रसिद्ध एवं वरिष्ठ कवि ममता शर्मा 'अंचल' द्वारा रचित रचना "बंजारे दिल का"
Image
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की छत्रछाया में अवैध फैक्ट्रियों के गढ़ गगन विहार कॉलोनी में हरेराम नामक व्यक्ति द्वारा पीतल ढलाई की अवैध फैक्ट्री का संचालन धड़ल्ले से।
Image