अधिशासी अभियंता राजीव आर्य ने बकाया वसूली के लिए पाल रखे हैं गुंडे:

 


(मामला: कोयल एन्क्लेव (राजेन्द्र नगर) उप-विद्युतघर, साहिबाबाद, गाज़ियाबाद/बकाया जमा करने पर भी काटी पत्रकार के घर की बिजली) 


डाटला एक्सप्रेस
व्हाट्सप: 9540276160 


गाजियाबाद: साहिबाबाद क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कोयल एनक्लेव बिजली घर में तैनात है लाइनमैन त्रिलोकी टीजी-2, उसने अपने साथी मनोज की शिकायत का बदला लेने के लिए पत्रकार पंकज तोमर के बी- ब्लाक, गगन विहार, साहिबाबाद स्थित घर की बिजली काट दी, जबकि अब से तीन-चार दिन पहले पत्रकार अपने घर का बिल जमा कराने पहले तो राजेंद्र नगर बिजली घर गया जहां पर एसडीओ ने कहा कि आप अपना बिजली का बिल कल जमा करा देना। वहां से आकर पत्रकार पंकज कोयल एनक्लेव बिजली घर पहुंचा, वहां पर कैश काउंटर पर मौजूद मनोज ने बिजली का बिल जमा करने के लिए मना कर दिया और वहां से जाने को कहा। इसकी शिकायत तुरंत जेई निरंजन मौर्या व एसडीओ अंशुल राठी से की गई तो एसडीओ साहब ने इसकी लिखित में शिकायत देने के लिए कहा, तो पत्रकार तोमर ने इसकी लिखित शिकायत उसी दिन एसडीओ अंशुल राठी को दे दी। इसी बात से चिढ़ कर आज दिनांक 25-8-19/रविवार को ये लोग गैंग बनाकर पंकज के घर पहुंच गए और वहां पर जाकर लाइट काट दी व एक पिंक कलर की रसीद दे दी। उसके बाद पत्रकार पंकज ने पहले तो जेई को फोन किया जब उनका फोन नहीं उठा तो उसके बाद एसडीओ को फोन किया।एसडीओ ने भी जब फोन नहीं उठाया तो एक्शन राजीव आर्य को फोन किया, उन्होंने फोन उठाया और 2:00 बजे तक बिल जमा करने के लिए कहा। तब पंकज ने कहा कि सर ठीक है आप लाइट जुड़वा दीजिए मैं 2:00 बजे तक बिल जमा करा दूंगा। बिल जमा कराने के बाद जब लाइनमैन त्रिलोकी से पंकज ने पूछा कि लाइट जुड़वा दी, तो वह गाली गुफ़्तार करते हुए कहने लगा कि जाकर अधिकारियों से मेरी शिकायत कर दो मैं लाइट नहीं जोड़ूंगा। चलिए यहाँ तक तो ठीक है लेकिन बात तब बिगड़ जाती है जब त्रिलोकी अपने साथ आये आठ लोगों की शह पाकर हाथापाई करने लगता है और जान से मारने की धमकी देने लगता है। शोर सुनकर वहां पर आस-पास के लोग इकट्ठा हो गये और उन्होंने बीच बचाव कराया। वहाँ मौजूद लोगों का कहना है कि यह लाइनमैन आए दिन लोगों की लाइट काट देता है और उसके बाद लाइट जोड़ने के नाम पर पैसे की मांग करता है। पहले भी यही लाइनमैन पत्रकार पंकज तोमर को जान से मारने की धमकी दे चुका है क्योंकि उन्होंने बिजली विभाग के खिलाफ खबर प्रकाशित की थी। 



एक्सईएन राजीव आर्य


अब असल बात पर आते हैं वो ये है कि अधिशासी अभियंता राजीव आर्य (9193320555) से जब पंकज तोमर ने इस घटना का ज़िक्र करते हुए लाइन मैन त्रिलोकी (9017757977) और उसके गुर्गों की शिकायत की तो वो कहाँ इस पर संज्ञान लेते, बल्कि उल्टे ही पंकज पर चढ़ गये, ये कहते हुए कि तुमने सरकारी काम में बाधा पहुंचाई। अब वो ऐसा क्यूँ न बोलें क्योंकि अॉफ द रिकार्ड इन्होंने ही वसूली के लिए गुंडे जो  पाल रखे हैं। ये क्रिमिनल पृष्ठभूमि के गुंडे गोलबंद होकर झुंड में चलते हैं और किसी को भी बेइज़्ज़त करते रहते हैं, बिला वजह किसी का कनेक्शन काटकर तीन सौ से चार सौ रूपये वसूल लेते हैं। इन्हें कभी भी छुट्टे साँड़ों की तरह शिकार की तलाश में निर्भय भटकते हुए देखा जा सकता है, अब भला अपने इन लाडलों की शिकायत उनके सरगना एक्सईएन राजीव आर्य साहब कैसे सुन सकते हैं। वैसे इस मामले की शिकायत पंकज तोमर द्वारा तुलसी निकेतन पुलिस चौकी में कर दी गयी है 



पुलिस को दी गई तहरीर



लाइनमैन त्रिलोकी