जेई सत्संगी और ठेकेदार उधम सिंह मोटी कमाई के चक्कर में सरकार को चूना लगाने पर उतारू:


(मामला: नगर निगम गाजियाबाद के जल-कल विभाग की मनमानी का)

डाटला एक्सप्रेस संवाददाता
पंकज तोमर


गाजियाबाद: साहिबाबाद क्षेत्र के तुलसी निकेतन, गगन विहार में जल-कल विभाग के जेई सत्संगी की घोर लापरवाही सामने आई है। जहां पर यह सरकार को अपने मुनाफे के चक्कर में ठेकेदार उधम सिंह के साथ मिलकर लाखों रुपए का चूना लगाने के चक्कर में है। मामला ये है कि कुटी से आने वाली पानी की लाइन गगन विहार से होती हुई राजीव कॉलोनी में पानी की सप्लाई के लिए खोदकर डाली जा रही है, इसकी दूरी लगभग 15 सौ मीटर के करीब बताई जा रही है जिसे जीडीए ने 50(पचास) लाख रूपये की लागत से बनवाया है और उसे बर्बाद किया जा रहा है। पूर्व पार्षद बाबू सिंह आर्य का कहना है कि यह लाइन भोपुरा में पहले से ही डली हुई है, और जहां पर लाइन डली हुई है वहां से राजीव कॉलोनी की दूरी मात्र डेढ़ सौ से 180 मीटर के आस-पास है, परंतु ये लोग अपने मुनाफे के चक्कर में सरकार को भारी नुकसान पहुंचा रहे हैं। जो काम कम पैसों में हो सकता था उसी काम को जेई और ठेकेदार मिलकर अपने मुनाफे के चक्कर में लंबा खींच रहे हैं।



इस मामले को लेकर गगन बिहार के सैकड़ों लोगों ने जल - कल विभाग के खिलाफ नारेबाजी की और यहां से पानी की लाइन नहीं डालने के लिए कहा। मौके पर पहुंचे ठेकेदार उधम सिंह ने चैलेंज कर कहा कि पानी की लाइन तो यहीं से डालेगी देखते हैं कौन रोक पाएगा। अब देखने वाली बात होगी कि इस दबंग और गुंडई पर उतारू ठेकेदार की मनमानी जो चरम सीमा तक पहुंच गयी है, उसको कौन रोकता है। दूसरी बात अगर अभियंता सत्संगी की करें तो वह भ्रष्टाचार का एक चलता-फिरता पुलिंदा हो चुका है जो काफ़ी दिनों से इस पद पर रहते हुए अपनी जड़ें जमा चुका है।


 


डाटला एक्सप्रेस
संपादक:राजेश्वर राय "दयानिधि"
Email-datlaexpress@gmail.com
FOR VOICE CALL-8800201131
What's app-9540276160