वरिष्ठ कवि ममता शर्मा "अंचल" किया गया विद्यावाचस्पति "की उपाधि से विभूषित

डाटला एक्सप्रेस संवाददाता

अलवर। अलवर (राजस्थान)की सुविख्यात लेखिका व शिक्षाविद् ममता शर्मा 'अंचल' को उनकी उत्कृष्ट साहित्यिक सेवाओं के लिए प्रतिष्ठित "विद्यावाचस्पति" की मानद उपाधि से अलंकृत किया । "विक्रमशिला हिंदी विद्यापीठ" भागलपुर, बिहार से अलवर (राजस्थान) की सुविख्यात लेखिका व शिक्षाविद् ममता शर्मा 'अंचल' को उनकी उत्कृष्ट साहित्यिक सेवाओं के लिए प्रतिष्ठित "विद्यावाचस्पति" की मानद उपाधि से अलंकृत किया गया। ममता शर्मा 'अचंल' की इस बेहतरीन उपलब्धि के लिए क्रांतिधरा साहित्य अकादमी के सदस्यों सहित ..समन्वय के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पूणेंदु सिंह जी व कई विद्वान साथियों ने शुभकामनाए देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

विभिन्न संस्थाओं ने समय-समय पर उन्हें अपने पुरस्कारों से नवाजा है।2018 में प्रयागराज में पश्चिम बंगाल के महामहिम केशरी नाथ त्रिपाठी जी द्वारा "महादेवी वर्मा सम्मान" से सम्मानित किया गया। 2019 में जयपुर के राजभवन में इनकी प्रथम पुस्तक "गज़ल संग्रह" "ओ...मेरे मन"का विमोचन महामहिम कल्याण सिंह जी द्वारा किया गया। 

राजस्थान साहित्य अकादमी उदयपुर द्वारा इनके काव्य संग्रह "बारिश... उम्मीदों की" को हाल ही 2023 में प्रकाशित किया गया। साहित्य मंडल नाथद्वारा द्वारा इन्हें "हिंदी काव्य मनीषी" की उपाधि से विभूषित किया गया। फरवरी 2023 में इन्हें नेपाल में सम्मानित किया गया।











वरिष्ठ कवि ममता शर्मा "अंचल", अलवर राजस्थान भारत 

Comments