जीडीए अभियंत्रण जोन 01 के अभियंताओं की बेरुखी के चलते बदहाली में जीने को मजबूर बॉम्बे कॉलोनी नंद ग्राम निवासी ।

डाटला एक्सप्रेस संवाददाता

गाज़ियाबाद विकास प्राधिकरण के अभियंत्रण जोन 01 अंतर्गत आने वाली बॉम्बे कॉलोनी नंदग्राम में रह रहे हज़ारो लोगों का जीवन जोन अभियंताओं की बेरुखी और नज़रअंदाजी के चलते बदहाली व लाचारी में गुज़र रहा है। बॉम्बे कॉलोनी नंदग्राम में बर्षों पूर्व जीडीए द्वारा फ्लैटों का निर्माण कर उन्हें आबंटित कर दिया गया। आज इतने वर्ष बीत जाने के बावजूद कॉलोनी निवासि पक्की गालियों, नालों, साफ सफाई, पेयजल आदि मूल सुविधाओं से भी अछूते हैं।पूरे जोन का भ्रमण कर यदि आप इस कॉलोनी में प्रवेश करते हैं तो ऐसा प्रतीत होने लगता है जैसे आप दूर दराज किसी गाँव में आ गये है।

कॉलोनी में हर तरफ़ टूटी सड़के, नाले व जल भराव बहुत आम सी बात है। अब तो कॉलोनी निवासियों ने भी थक हार कर ऐसी ही दयनीय स्थिति में जीवन यापन करना स्वीकर कर लिया है, उन्हें अब सरकार या विभाग से न्याय की भी कोई उम्मीद नहीं है।

जगह-जगह बने हुए गड्ढों में जल भराव के चलते कॉलोनी में चारो ओर हमेशा बदबू फैली रहती है, जलभराव की वज़ह से पैदा होने वाले मच्छरों के कारण भिन्न-भिन्न प्रकार की बीमारियां फैलना तो यहां आम बात है। सड़कों का आलम तो कुछ ऐसा है कि उन पर पैदल तो दूर वाहन में बैठ कर चलना भी एक टास्क है।

पूछे जाने पर बॉम्बे कॉलोनी के कुछ निवासियों ने बताया कि सड़कों व नालों के निर्माण के लिये हमारे द्वारा जीडीए को कई बार ज्ञापन दिया गया, परंतु वहां से आज तक आश्वासन के सिवा हमे कुछ नहीं मिला। नतीजतन थक हार के हम सब ने पक्की सड़कों व नालों के अपने असंभव सपने को भुला ऐसी ही स्थिति में रहना यह सोच कर स्वीकार कर लिया कि हम आम गरीब लोगों के लिये शायद जीडीए के पास समय नहीं है उन्हें तो केवल पॉश कॉलोनीयों के सड़कों और नालों के निर्माण करने से ही आनंद प्राप्‍त होता है।

बॉम्बे कॉलोनी नंदग्राम की बदहाली दर्शाती कुछ तस्वीरें











Comments
Popular posts
मुख्य अभियंता मुकेश मित्तल एक्शन मे, भ्रष्‍ट लाइन मैन उदय प्रकाश को हटाने एवं अवर अभियंता के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के दिये आदेश
Image
साहित्य के हिमालय से प्रवाहित दुग्ध धवल नदी-सी हैं, डॉ प्रभा पंत।
Image
दादर (अलवर) की बच्ची किरण कौर की पेंटिंग जापान की सबसे उत्कृष्ट पत्रिका "हिंदी की गूंज" का कवर पृष्ठ बनी।
Image
भक्त कवि श्रद्धेय रमेश उपाध्याय बाँसुरी की स्मृति में शानदार कवि सम्मेलन का किया गया आयोजन।
Image
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की छत्रछाया में अवैध फैक्ट्रियों के गढ़ गगन विहार कॉलोनी में हरेराम नामक व्यक्ति द्वारा पीतल ढलाई की अवैध फैक्ट्री का संचालन धड़ल्ले से।
Image