बीजेपी नेता और पत्रकार के बीच हुई मारपीट



.पत्रकार को बीजेपी नेता ने लात-घूसों से पीटा

.प्रदेश में पत्रकारों पर बढ़ रहे हैं हमले


डाटला एक्सप्रेस संवाददाता 'पंकज तोमर' 

थाना साहिबाबाद क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली पुलिस चौकी डीएलएफ के सामने बीजेपी नेता और पत्रकार के बीच किसी बात को लेकर आपस में झगड़ा हो गया। इसी बीच बीजेपी नेता ने अपने बाउंसर के साथ मिलकर पत्रकार सुनील शर्मा की जमकर लात-घूसों से पिटाई कर दी। हमले में पत्रकार बूरी तरह घायल व लहूलुहान हो गया। गनीमत यह रही के इस दौरान आसपास के लोगों ने पत्रकार सुनील शर्मा को  बीजेपी नेता से बचा लिया। मौके पर पहुंचे पुलिस कर्मियों ने आकर मामला शांत करवाया। जानकारी के अनुसार एक न्यूज़ चैनल में काम करने वाले सुनील शर्मा डीएलएफ कॉलोनी में रहते हैं। वही दीपक पाराशर नाम का एक प्रॉपर्टी डीलर भी रहता है जो भारतीय जनता पार्टी का पदाधिकारी बताया जाता है। दीपक पाराशर और सुनील शर्मा के बीच पहले से ही किसी बात  को  लेकर विवाद चल रहा है जिसके चलते दोनों के बीच तीन बार झड़प हुई। शनिवार की देर शाम दीपक पाराशर ने अपने चार-पांच बाउंसर बुला लिए और सुनील शर्मा के बेटे की पिटाई कर दी। अपने बेटे को बचाने आए सुनील शर्मा को भी बाउंसर और दीपक पाराशर ने पीट दिया। 

प्रदेश में आये दिन पत्रकारों पर हो रहे अत्याचार और जानलेवा हमलों में शाशन ने अब तक कोई भी ठोस क़दम नहीं उठाया है। जिससे इस प्रकार के लोगों को बढ़ावा मिलता है। वैसे पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है आगे जांच की बात कर रही है। अब देखने वाली बात यह होगी की बीजेपी नेता के खिलाफ पुलिस द्वारा क्या कार्यवाही की जाती है।

मुकदमा पंजीकृत होने के पश्चात बीजेपी नेता संजय पाराशर द्वारा पत्रकार सुनील शर्मा के साले को फोन कर दबाव बनाया जा रहा है। सूचना के अनुसार सुनील शर्मा के साले को फोन कर उसके जीजा को देख लेने की बात सुनील पाराशर द्वारा की जा रही है।

पुलिस द्वारा पत्रकार के विरुद्ध ही लिख दिया गया मुकदमा 

इसमे सबसे अधिक चौकाने वाली बात तो यह है कि पत्रकार सुनील शर्मा द्वारा मुकदमा लिखवाए जाने के बाद, बीजेपी नेताओं ने एक साथ मिलकर उल्टा पत्रकार के विरुद्ध ही उन पर दबाव बनाने के लिये मुकदमा लिखवा दिया। यह तो वही बात हुई एक तो चोरी ऊपर से सीनाजोरी। वैसे पुलिस दोतरफा मुकदमा लिखने के लिए तैयार ही नहीं होती है। परंतु बीजेपी नेताओं के दबाव में आकर पुलिस द्वारा पत्रकार के विरुद्ध धारा 323, 504, 506, 147, 148, 149 में मुकदमा थाना साहिबाबाद में पंजीकृत कर दिया। इस पूरे प्रकरण की शिकायत उच्च अधिकारियों को की जा रही है।

Comments