विद्युत विभाग की लापरवाही से एक बार फिर बेजुबान जानवर को गवानी पड़ी जान


गाजियाबाद:-साहिबाबाद क्षेत्र डिवीजन चार राजेंद्र नगर बिजली घर के अंतर्गत आने वाले बिजली घर कोयल एनक्लेव क्षेत्र के मेन 25 फुटा रोड पर मंदिर के पास एक बेजुबान जानवर की करंट लगने से दर्दनाक मौत हो गई है। यह कोई पहला वाक्य नहीं है जहां ऐसा हुआ हो अब से कुछ दिन पहले ऐसे ही बारात चढ़त के समय बग्गी में लगे घोड़े को भी करंट लगने के कारण मौके पर ही अपनी जान गवानी पड़ी थी। वहीं आसपास के लोगों का कहना है की हम कई बार कोयल एनक्लेव बिजली घर पर तैनात जेई निरंजन मौर्या और क्षेत्रीय लाइनमैन से खंभे में करंट उतरने की शिकायत कर चुके हैं बावजूद इसके आज तक उनके द्वारा करंट वाले खंभों को ठीक कराने की ज़हमत नहीं उठाई गई जिसके नतीजतन रोजाना एक के बाद कई बार बेजुबान जानवरों को अपनी जान गवानी पड़ी है। वैसे ये बात अलग है कि बिजली विभाग में पैसे देकर ना होने वाले काम भी आसानी हो जाते हैं परंतु जनहित के कार्य करने के लिए बिजली विभाग के अधिकारियों के पास समय नहीं है। आए दिन नई-नई सुर्खियों में आने वाले जेई निरंजन मौर्या और उनके गुर्गे आम जनता की जेबों पर नजरें गड़ाए बैठे रहते लेकिन जनहित का कार्य करने के लिए तैयार नहीं है। अब सोचने वाली बात यह है की उच्च अधिकारी ऐसे लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ क्या कार्यवाही करते हैं। कोयल एनक्लेव बिजलीघर क्षेत्र में लोहे के सैकड़ों खंभे लगे हुए हैं और उन खंभों पर नीचे की साइड पन्नी तक नहीं लपेटी गई है ताकि कोई जानवर या व्यक्ति करंट लगने से किसी हादसे का शिकार ना हो।उत्तर प्रदेश शासन के ऊर्जा मंत्री बिजली विभाग की कार्यप्रणाली को सुधारने के लिए आए दिन नए-नए दावे करते-रहते हैं परंतु इस तरह के हादसे उनके दावों की पोल खोल कर रख देते हैं।