दोस्त को घर छोड़ लौट रहे छात्र की सड़क दुर्घटना मे हुई दर्दनाक मौत


मृतक अंकुर रावत


डाटला एक्सप्रेस रोशन कुमार राय 


 


गाज़ियाबाद:साहिबाबाद के अंतर्गत आने वाली कॉलोनी शालीमार गार्डन निवासी अंकुर रावत(19) की दिल्ली के वजीराबाद में बुधवार रात सड़क हादसे में दर्दनाक मौत हो गई।जिसकी खबर सुनते ही परिवार और आस-पड़ोसियों में मातम का माहौल छा गया। प्राप्त सूचना के अनुसार अंकुर रावत अपने मित्र शुभम के साथ दिल्ली के उत्तम नगर से रीनौल्ट क्वीड कार से अपने घर ए-164 शालीमार गार्डन एक्सटेंशन 02 साहिबाबाद गाज़ियाबाद लौट रहे थे ।रास्ते में वह आउटर रिंग रोड वजीराबाद पुल पर गोपालपुर गांव के सामने कार को साइड मे रुकवा कर टाॅयलेट करने के लिए अपनी कार से उतरे तभी पीछे से तेज रफ्तार में आते अनियंत्रित ट्रक ने कार को टक्कर मार दी और कार को अपने साथ घसीटते हुए सड़क किनारे गहराई में जा गिरा जिसमें छात्र की मौके पर ही मृत्यु हो गई। लोगों ने नशे में धुत्त ट्रक ड्राइवर को पकड़कर खूब पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। गुरुवार को अंकुर रावत का गाज़ियाबाद के हिंडन घाट पर अंतिम संस्कार किया गया 


 


संगीत के क्षेत्र में अपना करियर बनाता चाहते थे अंकुर रावत 


 


हमारे पेपर के संवाददाता द्वारा अंकुर रावत के पिता श्री बीएस रावत और उनके पड़ोसियों से बात की गई जिसमें अंकुर रावत के पिता ने बताया कि उनका बेटा दिल्ली यूनिवर्सिटी काॅरेसपांडेस से बी-कॉम प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। वह पढ़ाई में काफ़ी होशियार था और आगे चलकर संगीत की दुनिया में अपना करियर बनाना चाहता था जिसके लिए वह अपने मित्र शुभम के साथ मिलकर स्टुडियों भी चलाता था जिसमें मेरा उसे हर तरह से सहयोग प्रदान था। वह एक आज्ञाकारी पुत्र और समझदार व्यक्ति था जिसने हमे कभी कोई तकलीफ नहीं पहुंचाई।वहीं पड़ोसियों का कहना है कि अंकुर एक होशियार, समझदार और बोहोत ही सभ्य लड़का था वह सबसे अच्छे से बात करता, सबको इज्जत और आदर देता चाहे वह उससे छोटा हो या बड़ा जब हमने यह खबर सुनी तो हमे अपने कानो पर विश्वास नहीं हुआ कि अचानक यह सब कैसे हो गया। 



दुर्घटना की तस्वीर 


 


Comments